कोहली बोले- कैप्टन के पास वाइड बॉल और नो बॉल को रिव्यू करने का विकल्प हो; केएल राहुल ने कहा- इसके लिए टीम को दो रिव्यू मिलना चाहिए


दुबई4 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

विराट कोहली ने आईपीएल में अब तक खेले 7 मैचों में 256 रन बनाए हैं।

  • चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच मंगलवार को खेले गए मुकाबले में वाइड बॉल को लेकर विवाद हो गया था
  • राहुल ने आईपीएल में पहली बार कप्तानी करने पर कहा कि वह कोहली और महेंद्र सिंह धोनी से काफी कुछ सीख रहे हैं।

इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि वाइड बॉल और नो बॉल को रिव्यू करने का विकल्प टीम के कैप्टन के पास होना चाहिए। यह बात उन्होंने बुधवार को स्टार के कार्यक्रम पूमा इंडिया इंस्टाग्राम चैट पर पंजाब रॉयल्स के कप्तान केएल राहुल से बातचीत में कही। कोहली आईपीएल टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के भी कप्तान हैं। उन्होंने कहा ”इस पर चर्चा होनी चाहिए” “यह महत्वपूर्ण बदलाव ला सकती है।”

विराट ने कहा” मैं ये बातें बतौर कप्तान कह रहा हूं। मैं कप्तान के तौर पर चाहूंगा, कि मेरे पास यह अधिकार हो कि वाइड और नाे बॉल के गलत निर्णय का रिव्यू कर सकूं। उन्होंने कहा कि हमने देखा कि आईपीएल और टी-20 जैसे टूर्नामेंट में ये चीजें कितनी बड़ी हो सकती है।

कोहली ने आगे कहा” Ṁयह फास्ट गेम है। इसमें छोटे अंतर से भी कुछ भी हो सकता है। हमने देखा है कि जब आप एक रन से हार जाते हैं और आपके पास वाइड और नो बॉल को रिव्यू का अधिकार नहीं होता है, तो ये कितना महत्वपूर्ण हो जाता है। इससे किसी के अभियान में बड़ा अंतर आ सकता है।”

राहुल ने वाइड और नो बॉल को लेकर दो रिव्यू मिलना चाहिए

केएल राहुल ने कोहली की बातों का समर्थन करते हुए कहा” अगर ऐसा होता है, तो अच्छा होगा। टीम को दो रिव्यू मिलने चाहिए। जिसका वह इस्तेमाल कर सके।”राहुल ने टूर्नामेंट में बदलाव पर कहा’ मैं अपने बॉलरों से पूछूंगा कि क्या अगर कोई 100 मीटर से ज्यादा दूरी पर छक्का मारता है तो उसको ज्यादा रन मिलना चाहिए।’

हैदराबाद और चेन्नई के मैच में वाइड को लेकर उठा था विवाद

चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच मंगलवार को खेले गए मुकाबले में वाइड बॉल को लेकर विवाद हो गया। चेन्नई के बॉलर शार्दूल ठाकुर की एक बॉल ऑफ स्टम्प के काफी बाहर पिच हुई। अंपायर पॉल रफेल ने इसे वाइड करार देने के लिए हाथ उठाया, लेकिन महेंद्र सिंह धोनी का रिएक्शन देखकर उन्होंने तुरंत अपने हाथ वापस खींच लिए।

इस घटना पर डग आउट में बैठे हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर भी नाखुश नजर आए।

लंबे ब्रेक के बाद आईपीएल में खेलने पर राहुल बोले

राहुल ने कोरोना के कारण लंबे ब्रेक के बाद आईपीएल में खेलने पर कहा” मैं टूर्नामेंट में आने से पहले नर्वस था। मैं इंजरी को लेकर डरा हुआ था। यह डर हमेशा बना रहा।” राहुल ने कहा” मुझे अपने आप पर तकनीक को लेकर संदेह था। क्योंकि लंबे समय से हमने नहीं खेला था। ऐसे में मैं थोड़ा नर्वस था। लेकिन मैं जानता था, कि टूर्नामेंट के शुुरु होने के बाद डर खत्म हो जाएगा। और बाद में इसमें मजा आएगा।

पहली बार कप्तानी पर राहुल बोले

राहुल ने आईपीएल में पहली बार कप्तानी करने पर कहा कि वह कोहली और महेंद्र सिंह धोनी से काफी कुछ सीख रहे हैं। “ मैं पहली बार कप्तानी कर रहा हूं। ऐसे में मैने माही भाई के साथ खेलने के दौरान जो कुछ सीखा है ,उसे ही करने की कोशिश की है। “ मैने जीत और हार के दौरान अपने को संतुलित रखने की कोशिश की। मैने यह भी सुनिश्चित करने का भी प्रयास किया की सभी लोग खेल को इंजॉय करें। यह मेरी लिए अच्छी सीख है। कप्तानी ने मुझे व्यक्तिगत रूप से भी तेजी से आगे बढ़ने में भी मददगार रहा।”



Source link

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *