देर रात तक कांग्रेस ने जारी नहीं की उम्मीदवारों की सूची, पीसीसी के बाहर विधायक अमीन कागजी के खिलाफ नारेबाजी


जयपुर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

चांदपोल स्थित प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय के बाहर विधायक के खिलाफ नारेबाजी करते कांग्रेस कार्यकर्ता

  • जानकारों का कहना है कि बगावती तेवर व विरोध को देखते हुए लिस्ट जारी नहीं हुई
  • विरोध करने वालों का आरोप-पार्टी कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज कर चहेतों को टिकट

नगर निगम चुनावों में कांग्रेस जयपुर में ही पार्टी के उम्मीदवारों की रविवार देर रात लिस्ट जारी नहीं कर सकी। जानकारों का मानना है कि टिकट चाहने वालों के बगावती तेवर व विरोध से बचने के लिए ऐसा किया गया। इसके बावजूद काफी संख्या में लोग रात को ही पार्टी मुख्यालय के सामने पहुंच गए। वहां विधायक अमीन कागजी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उनके खिलाफ पार्टी के जमीनी कार्यकर्ताओं को टिकट देने के बजाए अपने चहेतों को टिकट देने के आरोप लगाए। हालांकि, पुलिस के पहुंचने पर वे नारेबाजी करते हुए चले गए।

देर रात तक चांदपोल स्थित कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय के बाहर पसरा रहा सन्नाटा

देर रात तक चांदपोल स्थित कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय के बाहर पसरा रहा सन्नाटा

लेकिन, इससे पहले और फिर बाद में प्रदेश कांग्रेस कमेटी मुख्यालय पर सन्नाटा पसरा रहा। पार्टी से जुड़े कार्यकर्ताओं का दावा था कि पार्टी जिन उम्मीदवारों को चुनाव लड़वाना चाहती है उन्हें फोन कर सोमवार को नामांकन भरने के लिए कह दिया गया है। विरोध से बचने के लिए कांग्रेस ने यह रणनीति अपनाई। बताया जा रहा है कि कांग्रेस अधिकृत रुप से सोमवार को अलसुबह तक अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर देगी। वहीं, पार्टी से बगावत कर चुनाव लड़ने का मूड भी बना चुके है। पार्टी ने उम्मीदवारों की सूची क्यों नहीं जारी की। इस पर भी कांग्रेस संगठन से जुड़े किसी नेता का बयान सामने नहीं आया।

भाजपा के प्रदेश मुख्यालय के बाहर भी विरोध व नारेबाजी

टिकट नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं ने रविवार रात तक भाजपा के प्रदेश मुख्यालय पर पहुंचकर जमकर नारेबाजी की।

टिकट नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं ने रविवार रात तक भाजपा के प्रदेश मुख्यालय पर पहुंचकर जमकर नारेबाजी की।

वहीं, भाजपा ने रविवार रात को 250 वार्डों की सूची जारी की। इसके बाद टिकट नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं ने भाजपा के प्रदेश मुख्यालय पर पहुंचकर जमकर नारेबाजी की। विरोध को देखते हुए पार्टी मुख्यालय का मेन दरवाजा बंद कर दिया गया। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए वहां अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया। इसके बावजूद टिकट नहीं मिलने से नाखुश कार्यकर्ताओं का विरोध जारी रहा। वे मुख्यालय के बाहर सड़कों पर बैठ गए।

फोटो: मनोज श्रेष्ठ



Source link

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *