बाबा बंदा सिंह बहादुर की जयंती मनाई


बठिंडा18 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

गुरु काशी यूनिवर्सिटी के कॉलेज आफ बेसिक साइंसेज एंड हृयूमेनिटीज की ओर से एनएसएस व धर्म अध्ययन विभाग के सहयोग से डीन डॉ. सतनाम सिंह जस्सल की रहनुमाई में बाबा बंदा सिंह बहादुर का 350वां जन्मदिवस श्रद्धापूर्वक मनाया गया। प्रो वीसी डॉ. पुष्पिंदर सिंह औलख, डीन डॉ. अश्वनी सेठी व डॉ. वरिंदर कुमार ने विशेष तौर पर शिरकत की।

डॉ. जस्सल ने बाबा बंदा सिंह बहादुर की कुर्बानियों को याद करते हुए कहा कि उन्होंने जालिम मुगल शासकों के राज से मुक्ति दिलाई। उन्होंने बाबा बंदा सिंह बहादुर की कुर्बानी को याद करके श्रद्धासुमन भेंट किए। इस अवसर पर डॉ. पुष्पिंदर सिंह औलख ने अपने संबोधन में बाबा बंदा सिंह बहादुर के जीवन दर्शन के बारे में जानकारी देते हुए उनकी ओर से हासिल जीत व उनके कामों की वर्तमान में सार्थकता बताई।

मंच संचालन करते एनएसएस कोआर्डिनेटर डॉ. जसमीत सिंह ने बाबा बंदा सिंह बहादुर को एक महान सिख जरनैल बताते कहा कि बंदा सिंह बहादुर को सभी किसानों यानी हल वाहकों को जमीन का मालिक बनाया है। प्रो. गुरजीत सिंह खालसा ने बाबा बंदा सिंह बहादुर के जीवन के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि उनकी छोटे जीवनकाल में बड़ी उपलब्धियां हैं। उन्होंने डॉ. आशुतोष पाठक, लवलीन सचदेवा, डॉ. ज्ञानी देवी का आभार जताया। समागम में डॉ. दलजीत कौर, डॉ. रजनी बाला, डॉ. गुरप्रीत, डॉ. मनप्रीत कौर, डॉ. सुखदेव सिंह, डॉ. रछपाल सिंह, नीलकमल व ब्रह्मजोत ने सहयोग दिया।



Source link

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *