बॉलिवुड पर इन दिनों साउथ की फिल्में हावी हो रही हैं। पुष्पा: द राइज, RRR और KGF चैप्टर 2 जैसी ब्लॉकबस्टर मूवीज से हिंदी फिल्मों के डायरेक्टर्स की हालत पतली हो रखी है। हाल फिलहाल में रिलीज हुई रणवीर सिंह, शाहिद कपूर, अमिताभ बच्चन, अजय देवगन, टाइर श्रॉफ की ड्रामा सीरीज बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप रही हैं। मतलब वह अपने बजट का भी पैसा दर्शकों की जेब से वसूल नहीं कर पाए और औंधे मुंह गिर गए। ऊपर से किच्चा सुदीप और महेश बाबू जैसे सुपरस्टार्स का बॉलिवुड को लेकर कसा गया तंज भी उनके जले पर नमक छिड़कने से कम नहीं रहा। खैर इनकी ये लड़ाइयां तो चलती ही रहेंगी। क्योंकि जहां प्यार होता है वहीं ये सब तकरार देखने को मिलती है। जोक्स अपार्ट। आपको तो ये मालूम चल ही गया है कि हिंदी फिल्में अधिकतर कहीं-न-कहीं से कॉपीड होती हैं। कुछ रीमेक होती हैं। कुछ बायोपिक होती हैं। उनमें से कुछ चलती हैं और कुछ का हश्र वैसा ही होता है, जैसा इन दिनों देखने को मिल रहा है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है, इन मूवीज को बनाने वाले और दर्शकों के सामने परोसने वाले डायरेक्टर्स खुद कितने पानी में हैं। मतलब वह इतने हाई बजट की फिल्में तो बना देते हैं लेकिन उनको बॉक्स ऑफिस पर चला नहीं पाते। तो उनके पास कितना पैसा है कि मूवीज भी अगर पिट जाएं तो उनको एक ढेले भर का फर्क नहीं पड़ता। चलिए बताते हैं-

संजय लीला भंसाली


‘पद्मावत’, ‘बाजीराव मस्तानी’, ‘गोलियों की रासलीला- रामलीला’, ‘गुजारिश’ और अब ‘गंगूबाई काठियावाड़ा’ जैसी फिल्में देने वाले संजय लीला भंसाली की फिल्मों के सेट कमाल के होते हैं। फिल्में भी बेहतरीन होती हैं। कहानी, गाने, किरदार और उनके डायलॉग ऐसे होते हैं, जो दर्शकों के रोम-रोम में बंस जाते हैं। यह बॉलिवुड के सबसे अमीर डायरेक्टर्स में से एक हैं। इनके पास जितना टैलेंट है, उतना ही लक्ष्मी जी का भी खजाना है। नेट वर्थ की बात करें तो यह करीब 940 करोड़ के मालिक हैं।

राजकुमार हिरानी


‘पीके’, ‘संजू’, ‘3 इडियट्स’ जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्में देने वाले डायरेक्टर्स भी कुछ कम नहीं हैं। मीडिया के मुताबिक, डायरेक्टर की नेट वर्थ 1300 करोड़ है। यह भारत के सबसे ज्यादा टैक्स देने वाले फिल्ममेकर हैं। अभी यह शाहरुख खान के साथ उनकी फिल्म ‘डंकी’ की शूटिंग में बिजी हैं, जो 2023 में रिलीज होगी।

करण जौहर


करण जौहर बॉलिवुड में स्टार किड्स की एंट्री कराने के लिए मशहूर हैं। आलिया भट्ट हों या फिर वरुण धवन, उन्होंने मैक्सिमम को ये मौका दिया है। हालांकि कई बार उनको मुंह की खानी भी पड़ी है। DDLJ, ‘कल हो न हो’, ‘माय नाम इज खान’ देने वाले करण जौहर ने ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2’ और ‘कलंक’ जैसी हाई बजट की फ्लॉप फिल्में भी दी हैं। लेकिन उनको इसका कोई फर्क नही पड़ा। क्योंकि वह 205 मिलियन डॉलर की संपत्ति के मालिक हैं। उनकी सालाना इनकम की बात करें तो वह 100 करोड़ से ज्यादा की है। वह अपनी आधी कमाई विज्ञापनों से करते हैं।

अनुराग कश्यप


‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’, ‘गेम ओवर’, ‘मनमर्जियां’, ‘ब्लैक फ्राइडे’ जैसी जबरदस्त फिल्में देने वाले डायरेक्टर अनुराग कश्यप भी पैसों के मामले में पीछे नहीं हैं। इनकी नेट वर्थ 850 करोड़ है। उनका एक लग्जरी बंगला है, जो कि हैदराबाद में है। इसकी कीमत करीब 6 करोड़ रुपये है। अनुराग कश्यप डायरेक्टर के साथ-साथ राइटर, स्टार मेकर, स्टोरी टेलर भी हैं। क्योंकि जब भी ये कोई कॉन्टेंट परोसते हैं, वह सालों तक के लिए अपनी छाप दर्शकों पर छोड़ देती है।

मेघना गुलजार


‘राज़ी’ और ‘छपाक’ जैसी कमाल की फिल्में देने वाली डायरेक्टर मेघना गुलजार की नेट वर्थ 830 करोड़ रुपये है। वह पेशे से प्रड्यूसर भी हैं। राखी और गुलजार साहब की बेटी हैं। इन्होंने अपने करियर में ज्यादा फिल्में नहीं बनाईं लेकिन जो भी थीं, उन्हें खूब पसंद किया गया।

कबीर खान


‘बजरंगी भाईजान’ और ‘टाइगर जिंदा है’ के डायरेक्टर कबीर खान की हाल ही में 83 भी रिलीज हुई लेकिन वह पर्दे पर ज्यादा नहीं चली। मतलब ये फिल्म अपने बजट का भी पैसा बॉक्स ऑफिस पर नहीं निकाल पाई। लेकिन क्या फर्क पड़ता है। क्योंकि डायरेक्टर साहब तो 300 करोड़ के मालिक हैं। वह डायरेक्टर के साथ-साथ स्क्रीनराइटर और सिनेमैटोग्राफर हैं।

रोहित शेट्टी


‘गोलमाल’ फ्रैंचाइज के डायरेक्टर रोहित शेट्टी की हाल ही में ‘सूर्यवंशी’ आई थी। इस फिल्म ने 295 करोड़ का बिजनेस कर लिया था। अब उनकी ‘सर्कस’ 23 दिसंबर, 2022 को रिलीज होने के लिए तैयार है। खैर, इनके नेट वर्थ की बात करें तो वह करीब 290 करोड़ है।




Disclaimer- This content is from the following URl. If the content is not loading properly then please click the button below and read the full article.

x