भरनो के बॉर्डर इलाके में पहुंचा 22 जंगली हाथियों का झुंड, वनविभाग ने किया अलर्ट


भरनो (गुमला)4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भरनो बॉर्डर क्षेत्र में जुटा जंगली हाथियों का झुंड।

  • वनकर्मियों ने लोगों को हिदायत दी है कि हाथियों से कोई भी छेड़छाड़ ना करें
  • 22 जगंली हाथियों के दस्तक से ग्रामीण और किसान रात को जागने को मजबूर हैं

भरनो के बनटोली और भरनो के बॉर्डर इलाके के घाघरा जंगल के पार 22 जंगली हाथियों के झुंड के पहुंचने से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। वनविभाग ने फौरन कार्रवाई करते हुए रविवार को ग्रामीणों के बीच पटाखा व टॉर्च का वितरण किया। साथ ही लोगों को हिदायत दी है कि हाथियों से कोई भी छेड़छाड़ ना करें और ना ही उनके नजदीक जाएं।

वनकर्मियों ने वनटोली, घसियाटोली, अमलिया, बझिया टोली, रायकेरा आदि गांवों का दौरा कर ग्रामीणों के बीच पटाखा और टॉर्च का वितरण किया। वन विभाग के वनपाल एंथोनी लकड़ा ने सभी हाथी एक साथ इकट्ठा नहीं हैं। हाथी 22 की संख्या में एक साथ आए थे जरूर। लेकिन दो-चार कर बेड़ो थाना क्षेत्र के घाघरा जंगल और पुरनापानी जंगल में इधर-उधर घूम रहे हैं। जो भरनो क्षेत्र में भी आ जाते हैं।

वनकर्मियों के अनुसार, रात होते ही ये जंगली हाथी किधर रुख कर लेंगे, कहा नहीं जा सकता। क्योंकि घाघरा जंगल से ही हाथी वनटोली, घसियाटोली, अमलिया, रायकेरा, बझिया टोली के जंगल की ओर मुड़ कर खेत में लगी फसलों और घरों को निशाना बनाते हैं। इधर, 22 जंगली हाथियों के दस्तक से ग्रामीण और किसान रात को जागने को मजबूर हैं। वहीं, खेतों में धान की फसल तैयार हो चुकी है और किसान भारी मात्रा में मटर, आलू, गोभी, टमाटर समेत कई रबी फसल अपने खेतों में लगा चुके है। उन्हें हाथियों द्वारा इसे बर्बाद करने का डर सताने लगा है।



Source link

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *