बीघापुर में मंत्री बेबीरानी मौर्य ने शुक्रवार को पुष्टाहार यूनिट का निरीक्षण किया था। स्वच्छता के नजरिए से पुष्टाहार यूनिट में अंदर जाने से पहले शू-कवर पहनने की व्यवस्था है। निरीक्षण के लिए अंदर जाते वक्त उन्होंने शू-कवर पहने। बाहर आने के बाद वह ठिठकीं और अपने पैरों की तरफ देखा। उनके साथ निरीक्षण से निकले लोगों में से दो लोग झुके। इनमें से एक ने झुक कर उनके शू-कवर उतारे। दूसरे ने हाथ पीछे खींच लिया। शू-कवर उतारने वाला हाथ में डायरी लिए है। कहा जा रहा है कि वह मंत्री या यूनिट के स्टाफ का कर्मचारी है। शुक्रवार के इस घटनाक्रम की चर्चा शनिवार शाम तब शुरू हुई जब व्हाट्सएप ग्रुपों में यह वायरल होने लगा। क्या वाकई सियासत के ताकत का सहारा लेते हुए मंत्री द्वारा ये किया गया। ऐसी ही तमाम सवाल जनता के मन में उठ रहे होंगे। लेकिन जान लीजिए क्या बोली मंत्री।

यह भी पढ़ें

सौ करोड़ का कानपुर में बनेगा Mall, जानिए कितना बड़ा और क्या होंगी नई सुविधाएं

क्यो बोली मंत्री कैबिनेट मंत्री बेबीरानी मौर्य ने कहा जो वीडियो वायरल हुआ वह बिल्कुल गलत है। जिन्होंने वीडियो वायरल किए हैं, वे ही बताएं कि कौन अधिकारी या कर्मचारी है। वहां पेड़ से बहुत कीड़े गिर रहे थे। मैं अपने कपड़ों से कीड़े साफ करने लगी तो वहां खड़े हमारी पार्टी के एक कार्यकर्ता ने बड़ी बहन की तरह आदर देते हुए कीड़े साफ करने का आग्रह किया था।




Disclaimer- This content is from the following URl. If the content is not loading properly then please click the button below and read the full article.

x